Monday, 9 July 2012

Bhai Aur Us K Doston Ne Khoob Choda - Hindi Stories, Brother Sister Stories

दोस्तों मेरा नाम रेनू है मै 22 वर्ष की हूँ और एक प्राइवेट कंपनी में काम करती हूँ मेरे घर में मेरी माँ उम्र ४१ और मेरा chota भाई उम्र २१ वर्ष रहते है मेरा आज मै आपको लगभग 4 साल पुरानी घटना सुना रही हूँ उस समय मेरा सेक्स के बारे मै कोई एक्सपेरिएंस नही था एक दिन दूर के रिश्ते के जीजा घर पर आये और दो दिन रुके पहले दिन तो वह अपने काम से चले गए दूसरे दिन वह घर पर ही रहे उस दिन उन्होंने मुझे मजाक में कई बार किस किया और मेरे सीने को भी दो तीन बार दबाया पहले तो मुझे ख़राब लगा पर बाद में मुझे अच्छा लगने लगा, जीजा के जाते समय मै ही घर पर थी तो जीजा ने १० मिनट मुझे अपनी बाँहों में कस कर सीने से लगाये रक्खा बीच में उनका हाथ मेरी पुसी पर भी कई बार गया जीजा के जाने के बाद मै काफी देर गुमशुम बैठी रही मेरा मन हो रहा था की कोई मेरी पुसी को रगढ़े परन्तु मेरे पास कोई नहीं था जो मेरे सीने और पुसी को रगढ़े मै बहुत परेशां और उलझन में बैठी थी मेरा किसी काम में मन नहीं लग रहा था मैंने अपने हाथ से ही अपनी पुसी को रगना शुरू कर दिया मुझे ठीक लगा तो मैंने अपनी सलवार और चध्धी दोनों उतार दी अब मै नीचे नंगी थी और अपनी पुसी सहला रही थी रात ९ बजा था मेरा भाई मम्मी को ऑफिस से अपनी बाइक पर ले कर आगया बाइक की आवाज सुन कर मै ने अपनी सलवार पहन ली और घर का दरवाजा खोल दिया खाना खा कर हम सोने के लिए लेट गए मै और मेरा भाई एक ही कमरे में पढ़ते व् सोते थे मैंने लेटते ही आखें बंद कर ली और सोने की एक्टिंग करने लगी भाई जब रूम में आया तो उसने मेरी तरफ देखा उसे लगा की मै सो रही हू तो उसने एक किताब बेद के नीचे से निकाली और पढ़ने लगा थोरी ही देर में उसका हाथ अपने लंड पर आगया और वह उसे मसलने लगा धीरे धीरे उसकी स्पीड बढ़ती जा रही थी बीच बीचमे वह मेरी तरफ भी देख लेता था मै चुपचाप थोरी सी आंख्न खोले सारा नजारा देख रही थी अचानक भाई की स्पीड और बढ़ी और उसके लंड से पानी आया उसने उस पानी को मेरी पुरी ब्रा के ऊपर दाल दिया यह देख कर मै चौक गयी पानी निकालने के बाद वह सो गया मै पूरी रात न सो पायी बार बार मुझे भाई का लंड दिखाई दे रहा था अगले दिन भाई मम्मी को ऑफिस ले के जा रहा था तो मैंने कहा की बाहर से ताला लगा दो मै नीन्द कीगोली खा कर सोने जा रही हूँ भाई बाहर से बंद करके चला गया मैंने एक मिनी स्कर्ट पहनी और टाईट शर्ट पहनी ब्रा और चढी नहीं पहनी आधे घंटे में ही भाई लौट आया मै दौर कर अपने कमरे में गयी और शर्ट के ३ बटन खोल कर लेट गयी स्कर्ट भी इतना ऊपर कर ली कि मेरी चूत दिख जाए भाई घर के अन्दर आया मुझे आवाज लगायी पर मै चुपचाप लेटी रही वह कमरे के अन्दर आया अन्दर आते ही उसकी हवाइयां उर गयी मेरे गोरे गोरे बरे बरे बूब्स देखा कर वह एकदम हैरान हो गया उसकी नजर तभी मेरी चूत पर परी उसे तो वह देखता ही रह गया मेरी चूत और चूचियों को देख कर उसे समझ में नही आ रहा थी की वो क्या करे वह 15 मिनट मुझे मेरे बेड पर बैठा देखता रहा फिर उसने अपना लंड निकाला और उसे रगरने लगा मै सब देख रही थी मुझे लगा यह मुझे चोदेगा नहीं केवल अपना पानी निकाल लेगा तो मैंने अपने पैर सीधे करके फैला दिए मेरी चूत अब साफ़ दिखाई दे रही थी चूत पर बाल भी नहीं थे क्योकि मैंने ३ दिन पहले ही झांटे साफ किये थे भाई थोरी देर तो रुक गया और अपना लंड पकरे बैठा रहा फिर अपना मुह मेरी चूत के पास ले गया अब उसकी सांसे मेरी चूत को लग रही थी उसका मुह मेरी चूत के बहुत करीब था लेकिन उसकी हिम्मत नही पर रही थी मैंने थोरी देर तो इन्तजार किया पर वह उसी तरह अपना मुह मेरी चूत के पास लगाये रह तो मैंने धीरे से अपने चूतर ऊपर उठाये तो उसकामुह मेरी चूत से लग गया मुह लगते ही वह मेरी चूत चाटने लगा मुझे कितना मजा आरहा था मै बता नहीं सकती चूत चाटते चाटते उसका एकहाथ मेरी चुय्ची पर आ गया और वह चूची दबाने लगा धीरे धीरे उसने मेरी शर्ट के सरे बटन खोल दिए और मेरी स्कर्ट का हूक और जिप भी खोल दिया अब मै पूरी नंगी हो गयी थी चूत चाटते चाटते वह मेरी चूचियों को पीने लगा काफी देर चूचियों को पीने के बाद वह मेरे उपर धीरे से लेता और देखता रहा की मै सो रही हूँ की नहीं मै चुपचाप लेती ही जब उसे कॉन्फीर्म हो गया की मै सो रही हूँ तो उसने अपना लंड मेरी चूत के छेद पर लगाया अब मै बहुत खुश थी क्योकि मै अब चुदाने जा रही थी जैसे ही उसने मेरी चूत पर अपने लंड से जोर लगाया मुझे लगा की चूत फट जायगी मेरा जोर से चिल्लाने का मन था पर मै तो सोने नाटक कर रही थी इसलिए चिल्ला भी नही सकती थी सो मैंने बहुत दर्द होने के बाद भी मुह से आवाज नही निकाली उसने फिर जोर लगाया और उसका आधा लंड मेरी चूत के अन्दर हो गया मै तो दर्द के मारे मारी जा रही थी लग रहा था की चूत फट जायेगी भाई के एक धक्के के बाद लंड चूत में पूरा घुस गया मेरे मुस से लाख रोकने के बाद भी आह निकल गयी भी उसी तरह चुपचाप लेता रहा थोरी देर बाद जब उसे लगा की मै सो रही हूँ तो उसने लंड को अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया अब मुझे मजा आने लगा १५ मिनट जम कर वह मुझे छोड़ता रहा मै ने बीच मेही पानी छोर दिया था चूत से फचाक फचाक की आवाजे आ रही थी फिर उसने भी अपना पानी मेरी चूत में निकाल दिया और हाफाने लगा और मेरे ऊपर से उतर गया मेरा मन बार बार उसका लंड चूसने का हो रहा था पर मै तो नींद की गोली खा के सोने का बहाना कर के लेती हुई चुदवा रही थी बही भी थूरी देर में मेरे कपरे ठीक करके सो गया मेरी चूत में दर्द हो रहा था २ घंटे बाद मै उठी बाथरूम जाकर चूत को पानी से धोया चूत में बहुत जलन हो रही थी लेकिन मजा आगया था मेरी योजना कामयाब हो गयी थी भाई जब सो कर उठा तो मै छत पर बैठी अपनी चुदाई के बारे में सोच रही थी वह छत पर आया और उसने मेरी तरफ देखा उसकी निगाहें बदली हुई थी मैंने उसकी तरफ कोई ध्यान नही दिया थोरी देर बाद वह neeche चला गया मुझे हसीं आरही थी मैंने नीचे जाकर अपने कमरे में पैर फैला के बैठ गयी वह जब कमरे में आया तो उसकी निगाह मेरी चूत की तरफ पारी और मैंने देखा की उसका लंड पैंट के अन्दर फिर से खरा हो ने लगा वह मेरे सामने बैठ कर अखबार पढ़ने लगा लेकिन बार बार उसकी नजर मेरी चूत पर ही चली जाती थी मुझे बहुत मजा आरहा था तभी वह उठा और बोला बाहर जा रहा हूँ मै ने कहा ठीक है वह चला गया अब मै सोच रही थी की क्या करू कैसे भाई के साथ खूळ कर sex करू लगभग १ घनते बाद वह बाहर से आग्या मै भी तब tak प्लान बना चुकीई थी मै ने भाई से पूछां कि घर मे कोई कमर दर्द कि दावा है तो वह बोला क्यो मै ने कहा कि मेरी कमर मे बहुत दर्द हो रहा है तो वह बोला बाम लगालो मै बाम लेकर अपनी कमर मे लागणे लागी वह चोरी चोरी मेरी गोरी गोरी कमर कि तरफ देख लेता था और फिर पढने लगता था mai ने उसासे कहा कि एक नेंद कि गोळी भी देदो तो वह बोला कि सोने जा रही हो मैने कहा कि सोजाने पर आराम मिल जायेगा उसने मुझे गोळी लाकर दि मैने गोळी चुपचाप फेंक दी और पानी पी के लेट गयी मैने स्कर्ट और t shirt पाहन रक्खी थी अंदर ब्रा और painti नही pahni थी कोई १० मिनट बाद भाई धीरे से uth कर मेरे बेड पर आग्या मेरी कमर को सहलाने लगा मैने सोने कि एक्टिंग करते हुं करवत ले और पेट के बाल लेट गयी करवत लेणे मे मेरी स्कर्ट मेरे चुतर पर आगयी थोरी हि दर मे मैने एक उंगली अपनी गाड के छेद पर mahshoosh की भाई गाड के छेद मे अपनी उंगली daalane की कोशिश कर रहा था मुझे भी मजा aarahaa था तभी घर की घंटी बजी और और भाई उठ कर गेट खोलणे चला गया मै उसी तर्ह लेती रही आवाज सुने पर पता चला की भाई के दो दोस्त आये थे और उनकी बातो से पट चला की वो ब्लुये फिल्म की सीडी लाये थे वो लोग सीडी लगा कर देखणे लागे तभी भाई का एक दोस्त बाथरूम के लिये मेरे रूम के सामने से निकाला और उसने मेरी खुली हुई गाड देखी तो शायद वह चकरा गाय वह चुपचाप खिरकी पर खरे हो कर मुझे देखता रहा और फिर भाई के पास गाय और बोला की यार बियर नही पिलओगे भाई बोला पैसे नही है तो उसने पैसे दिये और बोला जाकर जल्दी ले आओ भाई ने बताया की दीदी बगल के रूम मे दावा ख कर सो रही है तो वह बोला जो हम लोग सीडी देख राहे है भाई चला गाय और उसके दोस्त मेरे कमरे मे आगये मेरे चुतर खुले हुथे गाड का छेद उनके सामने था सीडी देख कर दोनो के लंड खरे थे थाभी एक ने मेरी गाड पर थुक लगाया और आपण लंड मेरी गाड के छेद मे घुसाने लगा दुसरा दोस्त आपण लंड हाथ मे पकर कर मेरे मुह के पास ले आया मैने भी आज जम कर चुद्वाने का प्लान बनाया था और दो नये लंड भी आगये थे मैने करवत बदल ली और सिधी लेट गयी अब एक ने मेरी चूत चटणी शुरू कर दी और दुसरा मेरी chuchiyo पर लग गया २ मिअत बाद हि उसने आपण लंड मेरी चूत मे डाल दिया पहले झटके मे हि मेरी चूत मे अधे से ज्यादा चला गया मेरी आह निकाल गयी तो दोसरा बोला आराम से कर नही तो साली जग जयगी कितनी सेक्सी है चूत और चुचीया सब बहुत मस्त है तो पाहाल बोला जो मेरी चूत मे आपण लंड दले हुये था की एस मादरचोद को चोडणे के लिये हि तो इसके गांडू भाई से दोस्ती की थी और वह तेजी से शोत मारणे लगा मै १० मिअत मे हि झार चुकी थी थाभी उसने भी आपण पानी मेरी चूत मे दाल दिया मेरी चूत गरम गरम पानी से भर गयी थी उसके उतरते हि दोसरे ने काम सुरु कर दिया और आपण लंड मेरी चूत मे डाल दिया इसका लंड छोटा था मेरी चूत फैल चुकी थी इसलिये याह लंड मुझे पट भी नही चल रहा था तभी मेरा भाई बियर लेकर आग्या और मुझे चुडता देख कर बोला अरे तुम लोग याह क्या कर राहे हो तो उसका दोस्त बोला साली की खुजली mitaa रहे है इसके बहुत खुजली हो रही थी तभी मादरचोद गाड खोल कर लेती थी उसका दोसरा दोस्त भी मेरे उपर झार गया और तीनो वही पर बैठ कर बियर पिणे लगे मै पुरी नांगी वही पर लेती थी बियर पिणे के बाद सबसे पहले मेरा भाई मेरे उपर चढ गया और आपण लंड मेरी चूत मे डाल दिया उसके एक दोस्त ने मेरे मुह मे आपणना लंड जबरदस्ती दाल दिया मै भी धीरे धीरे उसका लंड चुसाने लागी तीनो मिल्जुल कर मुझे २ घंटे तक छोडते रहे दोस्तो उस दिन की चुदाई ने मुझे लंड का दिवाना bana दिया अब तो मै लंड के bina सो हि नही pati agar bahar नही milata तो भाई ya उसके दोस्तो से him kam चला लेती hum. Comments below plz.

Tags: Hindi Stories, Indian Sex Stories, Urdu Stories, Desi Stories, Sex Stories, Chudai Stories, Erotic Stories, Roman Stories, Hindi Kahani, Stories In Hindi Font, Stories In Hindi, Brother Sister Stories

0 comments:

Post a Comment

 
Design by Wordpress Theme | Bloggerized by Free Blogger Templates | coupon codes